राजस्थानराज्यवार खबरें

उच्च शिक्षा मंत्री ने जारी की विधायक निधि कोष से 35 लाख रूपये की स्वीकृति

बीकानेर, 06 अप्रैल। उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने मंगलवार को फिर अपने विधानसभा क्षेत्र श्रीकोलायत में राहत कार्यो केे लिये विधायक निधि कोष से 35 लाख रूपये की स्वीकृति जारी की है।
उच्च शिक्षा मंत्री भाटी ने वैश्विक महामारी कोविड-19 के चलते क्षेत्र में उत्पन्न असामान्य परिस्थितियों एवं लाॅक डाउन के चलते क्षेत्र के गरीब, मजदूर एवं जरूरतमंद परिवारों की पीड़ा को समझते हुए उनके लिये खाद्य सामग्री के क्रय एवं वितरण के लिये जिला प्रशासन को 35 लाख रूपये की सहायता राशि जारी करने हेतु अनुशंसा पत्र लिखा है तथा बताया कि उनके विधानसभा क्षेत्र में किसी भी जरूरतमंद परिवार को भूखा नहीं सोने दिया जाए।
भाटी ने बताया कि इस राशि में से 25 लाख कोलायत पंचायत समिति अधीनस्थ आने वाली 48 ग्राम पंचायतों के लिये, 5 लाख बीकानेर पंचायत समिति अधीन आने वाली श्रीकोलायत विधानसभा की 9 ग्राम पंचायतों एवं 5 लाख की राशि से देशनोक नगर पालिका क्षेत्र के जरूरतमंद परिवारो के लिये प्रशासन द्वारा खाद्य सामग्री खरीद कर वितरित की जावेगी।
उल्लेखनीय है कि इस महामारी के प्रारम्भिक दौर से ही भाटी लगातार क्षेत्र में बचाव एवं राहत कार्यो की मुहीम चलाये हुए है। एक और जहां कोलायत, बज्जू उपखण्ड एवं देशनोक नगर पालिका में प्रशासनिक अधिकारियों के साथ लगातार मीटिंग एवं समन्वय के माध्यम से व्यवस्याओं को मजबूत करवाया वही दूसरी ओर आवश्यक संसाधनों एवं उपकरणों की व्यवस्थार्थ अपने विधायक निधि कोष की राशि का लगातार जनहित में उपयोग किया।
 इससे पहले भी  मंत्री भाटीे 32 लाख रूपये की राशि अपने विधायक कोष से जारी कर चुके है, जिससे सम्पूर्ण कोलायत विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक गांव में सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव एवं सेनेटाईजर का वितरण करवाया जा चुका है, साथ ही 1 लाख रूपये की राशि के मास्क का वितरण भी क्षेत्र में करवाया गया। भाटी ने क्षेत्र के भामाशाह, समाजसेवी, खनन व्यवसायियों के माध्यम से पशुओं के लिये चारा तथा राज्य से बाहर फंसे क्षेत्रवासियों के लिये भी हर संभव मदद में जुटे है, इसके लिये उन्होंने विधायक सेवा केन्द में एक समन्वय दल भी बनाया है, जो स्वयंसेवकों के माध्यम से जरूरतमंदों एवं प्रशासन के बीच बेहतर तालमेल के माध्यम से क्षेत्र को कोरोना से बचाने एवं राहत कार्यो के संचालन में जुटे है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close