उत्तर प्रदेशराज्यवार खबरेंराष्ट्रीय

यूपी सरकार का बड़ा फैसला, 15 जिले हॉट स्पॉट घोषित, आज रात 12 बजे से सील

जनमत पत्रिका, लखनऊ। कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने अधिक संक्रमितों जिलों को बुधवार रात 12 बजे से 13 अप्रैल तक सील करने का फैसला किया है। इसमें भी उन क्षेत्रों में किसी को भी बाहर निकलने की इजाजत नहीं रहेगी जहां पर संक्रमण अधिक है। सभी जगह पर कर्फ़्यू जैसी हालत रहेगी। कोई भी बाहर नहीं निकल सकेगा। उत्तर प्रदेश में कोरोना का संक्रमण तेजी से फैलते हुए देख अब योगी आदित्यनाथ सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए उत्तर प्रदेश के 15 जिलों के हॉट स्पॉट इलाकों को सील करने का फैसला लिया है। सील की यह प्रक्रिया आज रात यानी बुधवार रात 12 बजे के बाद लागू होगी। अब उत्तर प्रदेश में कोई भी 30 अप्रैल तक बिना मास्क के बाहर नहीं निकल सकेगा। 31 मई तक कोई बैंक किसी किसान को नोटिस नहीं जारी करेगा। इस दौरान किसी भी वाहन को जिलों में बिना पास के प्रवेश नहीं मिलेगा। यह आदेश 13 अप्रैल की रात 12 बजे तक लागू रहेगा। यानी लगातार चार दिन। 15 जिलों लखनऊ, आगरा और गाजियाबाद जैसे बड़े जिले भी शामिल हैं। इसी के साथ यह भी आदेश दिया गया है कि 30 अप्रैल तक कोई भी बिना मास्क लगाए अपने घरों से बाहर नहीं निकल सकेगा। आगरा में 22 हॉटस्पॉट, गाजियाबाद में 13, गौतमबुद्धनगर में 12, कानपुर में 12, वाराणसी में 4, शामली में 3, मेरठ में 7, बरेली में 1, बुलंदशहर में 3, बस्ती में 3, फीरोजाबाद में 3, सहारनपुर में 4, महाराजगंज में 4, सीतापुर में 1 और लखनऊ में 8 बड़े और 4 छोटे हॉटस्पॉट चिह्नित किये गए हैं। मुख्य सचिव आरके तिवारी का कहना है कि 15 जिलों को पूरी तरह सील नहीं किया जाएगा। जहां संक्रमित मरीज ज्यादा हैं, उन्हें हॉट स्पॉट के रूप में चिह्नित कर उन्हें सील किया जाएगा। हर दिन समीक्षा होगी। 14 अप्रैल को सम्पूर्ण लॉकडाउन पर फैसला होने के बाद तय होगा कि सील की अवधि बढ़ेगी या नहीं। सरकार कोई भी अवसर लेना नहीं चाहती। हमने संक्रमितों की संख्या देखने के बाद एहतियातन यह सोचा है। लॉक डाउन में लापरवाही बरतने की रिपोर्ट के बाद ये फैसला लिया गया है। इसी को देखते हुए सरकार ने पास रद किये थे। लोग खाना बांटने के नाम पर सड़कों पर निकल रहे थे। कल रात नोएडा के स्लम एरिया में संदिग्ध पकड़े जाने के बाद सरकार को यह लगा कि मामला बिगड़ने लगा है। हाट स्पाट वाले क्षेत्र के निवासियों को जरूरी सामान होम डिलीवरी से दिया जाएगा।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close