बीकानेर

पीपीई किट पहन कलक्टर नमित ने लिया करोना अस्पताल का जायजा

जनमत पत्रिका, बीकानेर, 08 जुलाई। जिला कलक्टर नमित मेहता ने बुधवार को पी.बी.एम.अस्पताल का निरीक्षण कर, सम्पूर्ण व्यवस्थाओं को देखा।  साथ ही उन्होंने पीपीकिट को पहनकर कोविड-19 सुपर स्पेशलिटी हाॅस्पिटल की व्यवस्थाओं को देखा और उपचाराधीन रोगियों से पीपीकिट पहने इशारों में बातचीत कर व्यवस्थाओं के बारे में भी पूछा।

  जिला कलक्टर ने कोविड-19 सेन्टर को देखने के बाद कहा कि यहां सब कुछ बेहतर है। अधिकतर मरीजों में कोविड-19 लक्षण भी नहीं थे। साथ ही उन्होंने कहा कि भर्ती रोगी अगर अपने घर से भोजन मंगवाना चाहता है, उसे इसकी इजाजत दे दी जाए।  

  जिला कलक्टर ने पीबीएम अस्पताल में प्रथम तल पर बने नए आईसीयू मेडिसन भवन को भी देखा। इस भवन में भी सभी आधुनिक उपकरण लगाकर सुरक्षित रखने की बात कही। अगर भविष्य में और जरूरत पड़े अथवा ऐसे कोविड-19 के मरीज जो ठीक होने के बाद अन्यत्र शिफ्ट किए जा सकते हैं उन रोगियों को भी आईसीयू में रखने की व्यवस्था पर भी कार्य करने की बात प्राचार्य डॉ एसएस राठौड़ और अधीक्षक मोहम्मद सलीम को कही। उन्होंने कहा कि प्रायः देखने में आता है कि जिस रोगी की दो बार जांच में नेगेटिव आ जाता है उसे किसी पृथक वार्ड में शिफ्ट कर दिया जाये तो उसे यह धीरे-धीरे विश्वास होने लगेगा कि वह अब ठीक हो गया है और जल्द ही घर लौट जाएगा , साथ ही गंभीर रोगों के साथ न रहने से और वहां स्थान रिक्त हो जाने से सुपर स्पेशलिटी में नए रोगियों को भी आसानी से एडमिट किया जा सकेगा। ऐसे में इस आईसीयू का बेहतर उपयोग हो सकेगा।  
मेहता ने पीबीएम अस्पताल के कैजुअल्टी और मेडिकल जूरिस्ट विभाग को भी देखा। उन्होंने यहां की व्यवस्था पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि सभी व्यवस्थाएं बेहतर है। उन्होंने मेडिसन के 16 नंबर रूम जो कि टीबी अस्पताल के पास नए भवन में संचालित हो रहा है, उसका भी निरीक्षण किया।

जनाना अस्पताल भवन को देखा
जिला कलक्टर ने पीबीएम अस्पताल परिसर में बने जनाना अस्पताल भवन को भी देखा तथा प्राचार्य और अधीक्षक को निर्देश दिए कि इस भवन में बेड सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाए ताकि जरूरत पड़ने पर इस परिसर में भी कोविड-19 के रोगियों को शिफ्ट किया जा सके। उन्होंने कहा कि यह प्राथमिकता रहेगी कि जहां तक हो सके इस अस्पताल में कोरोना पॉजिटिव रोगियों को शिफ्ट नहीं किया जाएगा, लेकिन अगर जरूरत पड़ती है और रोगियों की संख्या बढ़ती है तो हमें रोगियों को बेहतर सुविधा उपलब्ध करवाने के लिए इस भवन का उपयोग भी लेना होगा। ऐसे में यहां सभी आधारभूत सुविधाएं जल्दी विकसित कर ली जाए ताकि आवश्यकता अनुसार यहां भी रोगियों को उपचार के लिए भर्ती किया जा सके।

पीपी किट पहनकर किया कोविड-19 सेन्टर का निरीक्षण

जिला कलक्टर नमित मेहता ने कोविड-19 सेंटर पहुंच कर वहां पूरे प्रोटोकॉल के तहत पीपीई किट पहना और सुपर स्पेशलिटी विंग में वहां गए, जहां कोविड-19 के रोगियों का उपचार चल रहा है। उन्होंने संपूर्ण अस्पताल का निरीक्षण कर व्यवस्थाएं देखी। कुछ रोगियों को शायद यह समझ में आ गया था कि जिला कलक्टर उनका हाल जानने उनके पास पहुंचे है, रोगियों ने भी बताया कि यहां सब कुछ ठीक है, जिला कलक्टर ने प्राचार्य और अधीक्षक से कहा कि यहां इलाज बेहतर चल रहा है, साथ ही सभी व्यवस्थाएं भी ठीक है। कुछ और गुणात्मक सुधार हो जाए तो बेहतर होगा।
तीन चिकित्सक रहे साथ में
  जिला कलक्टर मेहता जब कोविड-19 सुपर स्पेशलिटी सेंटर देखने पहुंचे तो डॉ सुरेंद्र वर्मा, डॉ बी के गुप्ता और मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बी एल मीणा भी पीपी किट पहने उनके साथ रहे।


निरीक्षण के दौरान सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज से संबद्ध प्राचार्य डॉ एसएस राठौड़, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) एएच गौरी, अधीक्षक पीबीएम अस्पताल डॉक्टर मोहम्मद सलीम, उपखंड अधिकारी रिया केजरीवाल, डॉ बी के गुप्ता, डॉ अजय कपूर, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. बी एल मीना सहित अन्य चिकित्सक मौजूद थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close