बीकानेरराजस्थानराज्यवार खबरें

जिला कलेक्टर ने चिकित्सकों के साथ की चर्चा, बढ़ाया मनोबल

कोरोना से जंग में चिकित्सक फ्रंटलाइन फाइटर – गौतम*

संसाधनों की नहीं होगी कोई कमी
 जनमत पत्रिका  बीकानेर, 9 अप्रेल। जिला कलक्टर कुमार पाल गौतम ने कहा कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए चिकित्सकों द्वारा अब तक किया गया कार्य बेहतर रहा है। हमें ओर अधिक सजगता और सेंसटिविटी से कार्य करना  होगा। इलाज के दौरान एक भी गलती नहीं हो, जिससे  रोगी को किसी तरह की परेशानी हो, इस बात पर हमें ज्यादा सतर्कता बरतनी होगी। एक छोटी सी भूल स्वयं चिकित्सक , मरीज और पूरे शहर और समाज के लिए परेशानी का सबब बन सकती है। ऐसे में हमें जीरो मिस्टेक से अपने कार्य को अंजाम देना है।
जिला कलक्टर गुरुवार को नगर विकास न्यास सभागार में सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज एवं संबंध चिकित्सालयों के चिकित्सकों और कोरोनावायरस संक्रमण से बचाव रोकथाम एवं उपचार के लिए पी.बी.एम अस्पताल के अधिकारियों और कर्मचारियों के प्रथम परिषद कार्यों के लिए गठित 12 कमेटियों के प्रभारी एवं चिकित्सा अधिकारियों से बातचीत कर रहे थे।
बैठक में कॉलेज के प्राचार्य डॉ एस.एस. राठौड, अधीक्षक मोहम्मद सलीम, सहित सभी वरिष्ठ चिकित्सक उपस्थित थे। गौतम ने कहा कि इस समय हम सबको अपनी ड्यूटी को पर्सनल रिस्पांसिबिलिटी समझते हुए चिकित्सकीय कार्य करना है जो भी रोगी आता है उसका पूरे प्रोटोकॉल के साथ इलाज किया जाए। इस दौरान मरीज के पास साफ-सफाई, चिकित्सक और पैरामेडिकल द्वारा जांच के दौरान  सभी नियमों का पालन किया जाए जो डब्ल्यू.एच.ओ. की गाइडलाईन में बताया गया है।

चिकित्सक करें एक्स्ट्रा एफर्ट

  जिला कलक्टर ने बैठक में सभी उपस्थित चिकित्सकों से कहा कि कोरोना महामारी से बीकानेर में इलाज के लिए हम सभी को टीम भावना के साथ कार्य करना है। आप सभी अब तक जो कार्य कर रहे हैं, अब एक्स्ट्रा एफर्ट्स करते हुए मरीजों को यह बताएं कि कोरोना से डरने की जरूरत नहीं है, इसका इलाज होगा और आप स्वस्थ होकर अपने घर लौटेंगे। उन्होंने कहा कि बीकानेर के सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज का पूरे प्रदेश में अपना एक महत्व है। यहां के चिकित्सकों को सभी लोग बहुत सम्मान और उम्मीद के साथ देखते हैं। आप लोगों पर आमजन भरोसा कर रहे हैं। मुझे पूरा विश्वास है कि आप अपने भरोसे पर खरे उतरेंगे।

आप इलाज करें, किसी तरह की कमी नहीं आने दी जाएगी
जिला कलक्टर ने कहा कि वर्तमान में चिकित्सक पूरी तन्मयता के साथ इलाज करें। किसी भी स्थिति में उपकरण अथवा अन्य सामान जांच आदि या सुरक्षा किट की कमी नहीं होने दी जाएगी। जितने संसाधनों की जरूरत है वह सब उपलब्ध करवाए जाएंगे। कोरोना के इलाज में पैसे की कमी आड़े नहीं आएगी तथा किसी भी दवा या उपकरण की कमी भी नहीं आने दी जाएगी, जो भी उपकरण की हमें आवश्यकता है, वह मंगवाई जाएंगी और कॉलेज में जांच करने की मशीन की कैपेसिटी और बढ़ाने के भी सार्थक प्रयास किए जाएंगे।
बैठक में सरदार पटेल मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ. एस.एस. राठौड, पी.बी.एम. अधीक्षक डॉ. मोहम्मद सलीम, डॉ. जय श्री मुरली मनोहर, डाॅ. आर.डी. मेहता, डाॅ. पी. नाहटा, डा. एल.ए.गौरी, डाॅ. रंजन माथुर सहित वरिष्ठ चिकित्सक सहित भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी अभिषेक सुराना उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close