राजस्थानराज्यवार खबरें

सरकार देगी निःशुल्क ट्रेक्टर एवं कृषि यंत्र

किराए पर उपलब्ध करवाने की योजना

जरूरतमंद किसानों के लिए बनी मददगार, अब तक 4 हजार किसानों को 8 हजार घंटे की सेवा मिली
जनमत पत्रिका, जयपुर, 25 अप्रेल। मुख्यमंत्री की पहल पर शुरू की गई निःशुल्क ट्रेक्टर एवं कृषि यंत्र किराए पर उपलब्ध करवाने की योजना जरूरतमंद किसानों के लिए खासी मददगार साबित हो रही है। इसके तहत अब तक करीब 4 हजार किसानों को 8 हजार घंटे से अधिक की सेवा दी जा चुकी है। यह मुफ्त सेवा आगामी 30 जून तक जारी रहेगी।


कृषि मंत्री श्री लालचन्द कटारिया ने बताया कि मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कोरोना संक्रमण एवं लॉक डाउन के चलते कृषि कार्यों में आ रही कठिनाई को देखते हुए आर्थिक रूप से कमजोर लघु एवं सीमांत किसानों को फसल कटाई, थ्रेसिंग एवं अन्य कृषि गतिविधियों के लिए निःशुल्क ट्रेक्टर एवं कृषि यंत्र किराए पर उपलब्ध करवाने के निर्देश दिए थे। इस पर विभागीय अधिकारियों ने कृषि यंत्र निर्माता टैफे कम्पनी से समन्वय कर अजमेर, अलवर, बारां, भरतपुर, बूंदी, जयपुर, झालावाड़, झुंझुनूं, जोधपुर, करौली, कोटा, नागौर, सवाई माधोपुर, सीकर, टोंक, धौलपुर, जालोर, पाली, बाड़मेर, उदयपुर, चित्तौड़गढ़, भीलवाड़ा, बीकानेर एवं दौसा जिलों में यह सुविधा शुरू करवाई है।                        

उन्होंने बताया कि जरूरतमंद पात्र किसानों की ओर से मांग आने पर कम्पनी के रजिस्टर्ड ट्रेक्टर एवं थ्रेसर के माध्यम से सेवा दी जा रही है। अभी तक करीब 10 हजार किसानों ने मांग की है जिनमें से 7 हजार पात्र काश्तकारों के आर्डर स्वीकार किए गए हैं। इनमें से करीब 4 हजार किसानों को 8 हजार घंटों से अधिक की सेवा मुहैया कराई जा चुकी है। ऑर्डर मिल चुके किसानों को निरन्तर सेवा उपलब्ध करवाई जा रही है।                                           

कृषि मंत्री श्री कटारिया ने बताया कि विभागीय अधिकारियों की सक्रियता एवं किसानों की जागरूकता के चलते सीकर जिले के किसानों ने इस योजना का सबसे ज्यादा लाभ लिया है। वहां करीब 1300 घंटों की सेवा दी जा चुकी है। उन्होंने अधिकारियों को किसानों को ज्यादा से ज्यादा फायदा पहुंचाने के निर्देश दिए हैं। श्री कटारिया ने बताया कि फिलहाल यह सेवा आगामी 30 जून तक जारी रहेगी। उन्होंने जरूरतमंद पात्र किसानों से इस योजना का अधिकाधिक लाभ उठाने का आह्वान किया है।       

पात्र किसान मैसेज भेजकर ले सकते हैं लाभकृषि विभाग के आयुक्त डॉ. ओमप्रकाश ने बताया कि आर्थिक रूप से कमजोर लघु एवं सीमांत किसान मुफ्त में किराए की इस योजना का लाभ उठाने के लिए 9282222885 नम्बर पर एसएमएस भेजकर जेफार्म सर्विसेज से सम्पर्क कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि अगर काश्तकार पहले से जेफार्म सर्विसेज में पंजीकृत हैं और किराए पर ट्रैक्टर एवं अन्य उपकरण के लिए ऑर्डर करना चाहते हैं तो ए लिखकर संदेश भेजें, अगर पंजीकृत नहीं हैं तो बी संदेश भेजें।


कृषि उपज के सुचारू परिवहन के लिए ‘किसान रथ’ ऐप उपयोगीआयुक्त डॉ. ओमप्रकाश ने बताया कि कृषि उपज के सुचारू परिवहन के लिए किसान एवं व्यापारी ‘किसान रथ’ ऐप का उपयोग कर सकते हैं। इसमें लगभग 5 लाख ट्रक एवं 20 हजार ट्रैक्टर जुड़े हुए हैं, जो किसानों के उत्पाद जैसे अनाज, दालें, सब्जियां, फल आदि को प्रतिस्पद्र्धी रेट पर मंडियों, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट आदि तक ले जाएंगे। इस समय जब ट्रांसपोर्ट की कुछ समस्या है, तब यह बहुत ही उपयोगी हो सकता है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close