बीकानेर

कलेक्टर ने ‘खुदा हाफ़िज़’ कह के बिहार के लिये रवाना की श्रमिक स्पेशल ट्रेन

जनमत पत्रिका , बीकानेर, 25 मई।  बीकानेर के लालगढ़ स्टेशन से 1710 यात्रियों को लेकर बिहार के पूर्णिया के लिए श्रमिक स्पेशल ट्रेन सोमवार को रवाना हुई। बीकानेर से बिहार जाने वाली यह दूसरी विशेष ट्रेन है। लाकडाउन के चलते अटके श्रमिकों को उनके घर तक पहुंचाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा विशेष प्रयास यह ट्रेन चलवाई गई। दोपहर 1रू30 बजे रवाना हुई इस ट्रेन में श्रमिकों के साथ उनके परिवार और बच्चे भी शामिल थे।

ट्रेन से अपने घर जाने की खुशी श्रमिकों के चेहरे पर साफ जाहिर हो रही थी। घर भेजने के लिए विशेष व्यवस्था करने के इस प्रयास पर श्रमिक जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम और अन्य प्रशासनिक अधिकारियों का आभार प्रकट करते नजर आए।
वहीं श्रमिकों को भेजने की व्यवस्था में जुटे अधिकारियों के चेहरे पर भी ट्रेन रवाना करते समय एक सुकून नजर आया।
लालगढ़ स्टेशन पर ट्रेन रवाना होने से पहले चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग की टीम  द्वारा यात्रियों के स्वास्थ्य का परीक्षण किया गया।  राजस्थान राज्य पथ परिवहन निगम की बस से यात्रियों को रेलवे स्टेशन तक लाया गया और यहां सोशल डिस्टेंसिंग की अनुपालना करते हुए सभी यात्रियों के स्वास्थ्य का परीक्षण कर उन्हें अलग-अलग डिब्बों में बिठाया गया। सम्पूर्ण व्यवस्थाओं का जिम्मा जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम के साथ निदेशक माध्यमिक शिक्षा सौरभ स्वामी ने संभाल रखा था। भारतीय प्रशासनिक सेवा के चार अधिकारी और राजस्थान प्रशासनिक सेवा के 12 अधिकारी भी इस कार्य में जुटे नजर आए। वहीं चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ पुलिस अधीक्षक प्रदीप मोहन शर्मा और पुलिस के अन्य आला अधिकारी भी इस अवसर पर व्यस्त दिखे।

मदरसे के बच्चे पहुंचेंगे घर, गौतम के प्रयासों से मिला मौका
बोले ईद पर आपके लिए दुआएं मांगी है सर, आपको हमेशा याद रखेंगे
इस विशेष ट्रेन से बीकानेर में मदरसे में अध्ययनरत बच्चों को घर जाने का अवसर मिल सका। लालगढ़ रेलवे स्टेशन से रवाना हुई गाड़ी के डिब्बा नंबर 20 में बड़ी संख्या में वे बच्चे थे जो यहां मदरसे में तालीम ले रहे थे। लाकडाउन के दौरान ये बच्चे अपने घर परिवार से दूर थे। इन बच्चों को जैसे ही उन्हें पता चला कि उनके डिब्बे के बाहर बीकानेर जिला कलेक्टर कुमार पाल गौतम आए हैं तो खिड़की से निकल कर उन्हें ईद के अवसर पर सलाम वालेकुम बोलते हुए शुक्रिया अदा किया। मदरसे में तालीम ले रहे बच्चों ने हाथ उठाकर दुआ मांगी और कहा कि सर दुआओं में आपको याद रखेंगे।

पूर्णिया बिहार के लिए ट्रेन जब रेलवे स्टेशन से रवाना हुई उससे पहले जिला कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने पूरे स्टेशन का निरीक्षण कर डिब्बे में बैठे यात्रियों से भी बातचीत की। ट्रेन में जाने वाले 1710 श्रमिकों के लिए पीबीएम हेल्प कमेटी की जनता रसोई द्वारा दो हजार भोजन के पैकेट यात्रियों को उपलब्ध करवााााए गये। हेल्थ कमेटी के सुरेंद्र राजपुरोहित और एडवोकेट बजरंग छिपा सहित अन्य पदाधिकारियों ने यह विश्वास दिलाया कि जिला प्रशासन द्वारा जब भी इस तरह के सामाजिक सरोकार के कार्य हमें सौंपे तो हम पूरी शिद्दत के साथ प्रशासन के आदेश की पालना करेंगे।
इस अवसर पर उपखंड अधिकारी रिया केजरीवाल, भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रशिक्षु अधिकारी अभिषेक सुराना, आयुक्त नगर निगम डॉ. खुशाल यादव, नगर विकास न्यास सचिव मेघराज सिंह मीणा, जिला परिवहन अधिकारी जुगल किशोर माथुर, न्यास के अधीक्षण अभियंता संजय माथुर, कनिष्क कटारिया, शैलेंद्र देवड़ा, यातायात निरीक्षक प्रदीप सिंह चारण सहित पुलिस प्रशासन, नगर निगम और स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारी उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close